शनिवार, फ़रवरी 10, 2018

बोलय में ऊ तेज हैं भइया..!!

बोलय में ऊ तेज हैं भइया
बहुत बड़े रंगरेज़ हैं भइया
लंद-फंद के गज़ब मास्टर
बिल्कुलय अंग्रेज है भइया

कीचड़ कमल तालाब हैं भाइया
शेरवानी टंका गुलाब हैं भाइया
चेहरे से महताब हैं भाइया
नेचर से आफ़ताब हैं भइया
जुमले वाली किताब हैं भइया
हीरो में अमिताभ हैं भइया
ख़ुद में एक ख़िताब हैं भइया
खौलत भै तेज़ाब हैं भइया
कन्ना कमानी पतंग हैं भइया
मंझा चौचक चंगेज़ हैं भाइया
बोलय में ऊ तेज हैं भइया
बहुत बड़े रंगरेज़ हैं भइया....

उनके जलवा हाई है भइया
सबसे बड़े हलवाई हैं भइया
सूट बूट अउ टाई हैं भइया
इंटरनेट, वाई फाई हैं भइया
कुर्ते पे चिकन कढ़ाई हैं भइया
जयपुर की गरम रजाई हैं भइया
मशरूम के चिकनाई हैं भइया
दूध दही अउ मलाई हैं भइया
इत्र के तगड़ी महक हैं भइया
फूल सुनहरी सेज़ हैं भाइय
बोलय में ऊ तेज हैं भइया
बहुत बड़े रंगरेज़ हैं भइया.....

पकौड़ा भी रोज़गार है भइया
भीतर का उद्गार है भइया
युवा बेरोज़गार है भइया
ऊपर से ओका प्यार है भइया
बिल्कुल बंटाधार है भइया
पर सब फिर तैयार हैं भइया
तगड़ी फैली रार है भइया
पक्ष विपक्ष तकरार है भइया
चाकू छूरी तलवार है भइया
सब के तेज़ औज़ार है भइया
जनता के सर चढ़ कर बैठौ
टेबल कुर्सी मेज़ हैं भइया
बोलय में ऊ तेज हैं भइया
बहुत बड़े रंगरेज़ हैं भइया......!!

अनुराग अनंत
एक टिप्पणी भेजें